कहानियां

बाघ की बन आई

एक जंगल मे चार गायें रहती थी। उनमें गाढ़ी मित्रता थी। वे चारों हमेशा साथ-साथ रहती थीं। एक साथ घूमने जाती साथ-साथ चरने जातीं। वे बड़े सुख से रहती थीं। कभी कोई जंगली जानवर उन पर हमला करता, तो वे चारों मिलकर उसका सामना करतीं। और उसे मारकर भगा देतीं।

उसी जंगल में एक बाघ भी रहता था। उसकी नजर इन गायों पर थी वह गायों को मार कर खा जाना चाहता था। लेकिन उनकी एकता देखकर उन पर हमला करने की उसकी हिम्मत नही होती थी।
एक दिन गायों में आपस में झगड़ा हो गया। वे एक-दूसरे से नाराज हो गईं। उस दिन हर गाय अलग-अलग रास्ते से जंगल में चरनें गई। बाघ तो बहुत दिनों से इसी ताक में बैठा था। उसने एक-एक कर सभी गायों को मार डाला और उन्हे खा गया।

शिक्षा -एकता में ही शक्ति है, फूट से ही विनाश होता है।