hindi ki bindi

Listen Music & FM channels

त्र

त्रिभुज

hindi poem  tringle
मित्र! त्रिभुज की तीन भुजाएँ।
मिलकर सुंदर रूप बनाएँ,
भारत हो बर्मा या चीन,
तीन भुजाएँ कोने तीन।।
hindi poem  tringle hindi poem  tringle