hindi ki bindi

Listen Music & FM channels

फल

hindi poem fruit
फल है बेच रहे फलवाले।
सभी एक से एक निराले,
लगते कैसे मधुर रसीले,
तरह तरह के रंग रँगीले।।
hindi poem fruit hindi poem fruit