hindi ki bindi

Listen Music & FM channels

डमरू

hindi poem
डमरू बजता है डम डम।
नाच रहे सब छम छम छम,
है आवाज बड़ी सुंदर,
इसे बजा नाचे शंकर।।
hindi poem hindi poem