hindi ki bindi

Listen Music & FM channels

खरगोश

hindi poem rabit
देखो यह खरगोश निराला।
लगता कितना प्यारा प्यारा,
छोटी पूँछ और लंबे कान,
इसकी बड़ी अनोखी शान।।
hindi poem rabit hindi poem rabit